फाडू अनमोल वचन नॉन वेज जोक! 

फाडू अनमोल वचन!

1. गांड मराये बेगम दंड भरे गुलाम – मतलब किसी के गुनाह की सजा किसी दूसरे को देना यानि चोरो का दंड फकीरों को।
2. झांट उखाड़ने से मुर्दे हलके नहीं होते – यानि किसी भारी काम को बहुत थोड़ा प्रयास करने से कुछ नहीं होता जैसे ओस चाटने से प्यास नहीं बुझती।
3. तेली का तेल जले मशालची की गांड जले – यानि किसी दूसरे के फटे में टांग अडाना या दखल अंदाजी करना।
4. हाथी के लंड से बाँधना – मतलब किसी लम्बे काम में लगाना या बे-फ़ालतू का व्यस्त कर देना।
5. सफ़ेद झांट होना – यानि बिना कीमत का या मूल्यहीन होना।
6. साथ भी सोये और गांड भी छुपाये – मतलब बिना कुछ खोये कुछ पाने की आशा करना।
7. शेर का लंड पकड़ना – यानि किसी ऐसे काम में उलझना जिससे छुटकारा पाना भी मुश्किल और करना भी मुश्किल।
8. चुदाई के उतने ना मिले जितने के कपडे फट गए – इसका अर्थ किसी ऐसे काम से है जिसमे बहुत मेहनत हो और प्रतिफल बहुत कम।
9. पेल्हड़ कितना भी बढे, रहेगा लौडे के नीचे ही – नीच कितना भी बढे, उच्च विचार वाले के तले ही रहेगा।
10. लंड साला टट्टों पर ही झुकेगा – मतलब किसी की प्रकृति पर ही आना जैसे पानी नीचे ही गिरेगा या नीच आदमी नीचता ही करेगा।
11. देवर को नहीं देगी खूंटे से फडवा लेगी – मतलब किसी का भला नहीं सोचने वाला जो किसी वस्तु को व्यर्थ बर्बाद कर देगा पर किसी दूसरे को नहीं देगा।
12. नाम बसंती शक्ल चुतिया – इस का अर्थ समझाने के लिए एक दूसरी लोक उक्ति है, झांट मान झौंपड़ी, तारागढ़ नाम, आशा है समझ गए होंगे।
13. पकड़ने का पता नहीं और मुठ का ठेका – यह वाक्य उस वक्त के लिए है जब कोई बिना अनुभव वाला किसी अनुभव की आवश्यकता वाले की जगह को ले लेता है।
14. जिसकी चुदाई में फटे वो बच्चे क्या ख़ाक पैदा करे – मतलब लगभग ऊपर वाली कहावत जैसा ही है बस सूक्ष्म अंतर है।
15. गांड में दम नहीं हम किसी से कम नहीं – यह उक्ति ऐसे समय के लिए है जब कोई व्यर्थ की ताल ठोके।
16. और काम कल के, गीत गांड के बल के – मतलब गीत गाने को छोड़कर बाकी सारे काम कला अर्थात दिमाग से होते है लेकिन गीत गाने के लिए गांड में दम जरूरी है।
17. गाड़ में टट्टी नहीं, सूअर को न्योता – अपनी हैसियत से बहुत ज्यादा बढ़-चढ़ कर कोई कार्य करना।

Advertisements

आदमी का लिंग नॉन वेज जोक! 

सबसे पवित्र चीज है पुरुष का लिंग।
ये बहूत विनम्र है,

हमेशा झुका रहता है।
ये बहुत दयालु है,

लडकियों की गोद भरता है।
ये असली गुरु है,

जो अपने दो चेलों का साथ नही छोडता।
इसमें सादगी है,

ये छोटी सी गुफा में रात गुजार लेता है।
ये आदरणीय है,

नारी को देख कर खड़ा हो जाता है।
ये कोमल है,

चाहे कितना भी मरोड़ो इसमें से अमृत ही निकलता है, जिससे सृष्टि चलती है।

Teachers day badhai sandesh! 

1. सफल जीवन सजता हैं सपनो से

जो मिलता हैं किसी गुरु की दस्तक से

जीवन सूर्य सा प्रकाशित हो उठता हैं

जब साथ एक सच्चे गुरु का मिलता हैं
2. बिन गुरु नहीं होता जीवन साकार

सिर पर होता जब गुरु का हाथ

तभी बनाता जीवन का सही आकार

गुरु ही हैं सफल जीवन का आधार

“हैप्पी टीचर्स डे”

टीचर डे शायरी हिंदी में! 

1.कड़ी धूप में जो दे वृक्ष सी छाया

ऐसी हैं इनके ज्ञान की माया

नहीं होता कोई रक्त सम्बन्ध

फिर भी हैं जीवन का अनमोल बंधन
2. ना तारीफ के शब्दों की हैं उसको चाहत

ना महंगे उपहारों से होती उसकी इबादत

उसे मिलती हैं तब ही आत्मीय शांति

जब फैलती हैं विश्व में शिष्य की कान्ति

“हैप्पी टीचर्स डे” 

Teachers day shayari hindi me! 

1. चंद शब्दों में नहीं होती बयाँ

ईश्वर के तुल्य हैं जिनकी काया

ऐसे गुरु वर को शत शत नमन

उनके चरणों में जीवन अर्पण
2.  शिक्षक हैं एक दीपक की छवि

जो जलकर दे दूसरों को रवि

ना रखता वो कोई ख्वाइश बड़ी

बस शिष्य की सफलता ही हैं खुशियों की लड़ी 

 ” हैप्पी टीचर्स डे” 

टीचर डे एसएमएस हिंदी में! Teachers day sms! 

गुरू गोविंद दोउ खड़े, काके लागू पाव, बलिहारी गुरू आपने, गोविंद दियो बताय

गुरू ब्रम्हा, गुरू विष्णु, गुरू देवो महेश्वरा, गुरू साक्षात परम्ब्रम्ह तस्मय श्री गुरूवनमः

हैप्पी टीचर्स डे 

टीचर डे शायरी हिंदी में! Teachers day shayari

गुरूदेव के श्रीचरणों में

श्रद्धा सुमन संग वंदन

जिनके कृपा नीर से

जीवन हुआ चंदन

धरती कहती, अंबर कहते

कहती यही तराना

गुरू आप ही वो पावन नूर हैं

जिनसे रौशन हुआ जमाना।।